धातु की सतहें

पेंटिंग से पूर्व

  • सतह पर कोई धूल, मिट्टी, ग्रीस, जंग या आर्द्रता आदि नहीं होनी चाहिए।
  • जिस हिस्से पर आप पेंट नहीं करना चाहते हैं, उसे मास्किंग टेप, पेपर और/या कपड़े से ढँक दें।

 

सतह की तैयारी

  • उचित ट्रीटमेंट द्वारा ग्रीस हटाएं या फेरस धातु सब्स्ट्रेट्स पर से जंग हटाएं।
  • नॉन फेरस मेटल सब्स्ट्रेट्स जैसे एल्यूमिनियम, गेल्वेनाइज्ड आयरन, टिन आदि के लिए सतह पर एप्कोनिल वॉश प्राइमर- WP 636 लगाएं।
  • फेरस मेटल सब्स्ट्रेट्स के लिए AP मेटल प्राइमर - कोर्रोशन रेसिस्टैन्स को ब्रशिंग या स्प्रे करके लगाएं।
  • डेन्ट्स और सतह की कमियों को दूर करने के लिए AP नाईफिंग पेस्ट फिलर का इस्तेमाल करने की सिफारिश की जाती है।
  • सुनिश्चित करें कि सतह आर्द्रता और धूल मिट्टी के कणों आदि से रहित है।
  • पुट्टी किए गए हिस्सों को कवर करने के लिए ब्रशिंग या स्प्रे के ज़रिए AP मेटल प्राइमर - कोर्रोशन रेसिस्टैन्स का एक और कोट लगाएं।
  • सर्वश्रेष्ठ परिणामों के लिए, प्राइमर कोट को 6 घंटे तक सूखने दें और बाद वाले कोट लगाने से पहले एमरी पेपर संख्या 320 से ड्राई सेंडिंग करें।

 

पेंटिंग

  • जैसा ऊपर कहा गया है, प्राइमर लगाने के बाद रात भर सूखने दें।
  • सिफारिश किए गए थिनर का प्रयोग करके ऊपरी कोट लगाएं (एप्कोलाइट प्रीमियम ग्लॉस इनैमल या एप्कोलाइट प्रीमियम सैटिन इनैमल, गटटू सिंथेटिक इनैमल)। सर्वश्रेष्ठ परिणामों के लिए दो कोट्स लगाएं और दोनों कोट्स के बीच 8 घंटों का अंतर रखें।
  • दूसरा कोट लगाने से पहले, पहले कोट को वाटरप्रूफ एमरी पेपर ग्रेड 400 के साथ वेट सैंड किया जाना चाहिए।
Image